कितने साल तक जमीन पर कब्ज़ा जमाये रखने से मालिकाना हक का पता चलता है, अगर मालिक को इसकी जानकारी नहीं है तो वह क्या कर सकता है ?

कितने साल तक जमीन पर कब्ज़ा जमाये रखने से मालिकाना हक का पता चलता है, अगर मालिक को इसकी जानकारी नहीं है तो वह क्या कर सकता है ?

भारतीय कानून के अनुसार, किसी जमीन पर 12 साल तक लगातार कब्जा करने से उस जमीन का मालिकाना हक उस व्यक्ति को मिल जाता है जो कब्जा कर रहा है। इस अवधि को “प्रतिकूल कब्जा” कहा जाता है। अगर किसी जमीन का मालिक इस बात से अनजान है कि उसकी जमीन पर कोई दूसरा व्यक्ति कब्जा कर रहा है, तो वह…

Read More
When daughters do not get a share in their father's property

कब बेटियों को पिता की संपत्ति में हिस्सा नहीं मिलता ?

बेटियों को पिता की संपत्ति में हिस्सा नहीं मिलता, जब: इन दो स्थितियों के अलावा, बेटियों को पिता की संपत्ति में समान अधिकार हैं, चाहे वह विवाहित हो या अविवाहित। पैतृक संपत्ति वह संपत्ति है जो बेटी के पिता की मृत्यु से पहले उनके परिवार के स्वामित्व में थी। हिंदू उत्तराधिकार अधिनियम, 1956 के अनुसार, 9 सितंबर, 2005 से पहले पिता…

Read More
When can a daughter claim her father's property and when not

पिता की संपत्ति पर बेटी कब कर सकती है दावा कब नहीं ?

बेटी पिता की संपत्ति पर दावा कर सकती है या नहीं, यह इस बात पर निर्भर करता है कि संपत्ति पैतृक है या स्वअर्जित। पैतृक संपत्ति वह संपत्ति है जो बेटी के पिता की मृत्यु से पहले उनके परिवार के स्वामित्व में थी। हिंदू उत्तराधिकार अधिनियम, 1956 के अनुसार, 9 सितंबर, 2005 से पहले पिता की मृत्यु हो गई थी, तो बेटी को…

Read More
Can I (girl) claim my property after 50 years

क्या मैं (लड़की) 50 साल बाद अपनी संपत्ति का दावा कर सकती हूं ?

हां, आप 50 साल बाद अपनी संपत्ति का दावा कर सकती हैं। हिंदू उत्तराधिकार अधिनियम, 1956 के तहत, बेटियों को पैतृक संपत्ति में समान अधिकार दिए गए हैं। इसअधिनियम के अनुसार, “एक हिंदू बेटी, चाहे वह विवाहित हो या अविवाहित, अपने पिता की मृत्यु के बाद पैतृकसंपत्ति में अपने पिता की मृतक संपत्ति के समान हिस्से की हकदार है।” इसका मतलब है कि…

Read More
https://sawaalkaro.com/wp-admin/post.php?post=836&action=edit

Risks, Benefits, Applications in Weddings, Parties, YouTube Videos, and Related Laws Associated with Drones.

There’s a lot of buzz about drone wedding photography and videography. Drone videography offers breathtaking, fantastic cinematic shots and a bird’s eye view.Nowadays It’s a hot trend for sure. The demand for drone videography has increased exponentially over the last year. There have been Many drone companies invented last year.Drones have more recently been used…

Read More
किन देशों में वेश्यावृत्ति कानूनी है

किन देशों में वेश्यावृत्ति कानूनी है ?

यहां उन देशों की सूची दी गई है जहां वेश्यावृत्ति कानूनी है: न्यूजीलैंड: वेश्यावृत्ति 2003 से कीवी लोगों के लिए कानूनी है। यहां सार्वजनिक स्वास्थ्य और रोजगार कानूनों के तहत लाइसेंस प्राप्त वेश्यालय भी चल रहे हैं, जिसका अर्थ है कि श्रमिकों को अन्य कर्मचारियों की तरह ही सामाजिक लाभ मिलते हैं। ऑस्ट्रेलिया: ऑस्ट्रेलिया में…

Read More
क्या होगा अगर पंजीकृत वसीहत मौजूद है तो 50 साल बाद संपत्ति किसको दी जाएगी

क्या होगा अगर पंजीकृत वसीहत मौजूद है तो 50 साल बाद संपत्ति किसको दी जाएगी ?

अगर कोई पंजीकृत वसीयत मौजूद है, तो 50 साल बाद भी वह वैध होगी। वसीयत का पंजीकरण करने से यह सुनिश्चित होता है कि वह सार्वजनिक रिकॉर्ड में दर्ज हो जाती है और इसे चुनौती देना मुश्किल हो जाता है। इसलिए, 50 साल बाद भी, संपत्ति उसी व्यक्ति या व्यक्तियों को दी जाएगी जिन्हें वसीयत में नामित किया…

Read More
प्रॉपर्टी कानून में पाक 11 क्या है

प्रॉपर्टी कानून में पाक 11 क्या है ?

प्रॉपर्टी कानून में, पाक 11, भारतीय राजस्व अधिनियम, 1873 की धारा 11 को संदर्भित करता है। यह धारा, भूमि के स्वामित्व का निर्धारण करने के लिए एक प्रक्रिया प्रदान करती है। धारा 11 के अनुसार, यदि किसी विशेष धारक के स्वामित्व के संबंध में कोई प्रश्न उत्पन्न होता है, जो सक्षम न्यायालय द्वारा निर्धारित नहीं किया गया है, तो सक्षम प्राधिकारी पाक 11 के तहत…

Read More
पंजीकृत वसीयत में गवाह की भूमिका ?

पंजीकृत वसीयत में गवाह की भूमिका ?

वसीयत के संदर्भ में, गवाह किसी दस्तावेज़ के हस्ताक्षर को मान्य करने की कानूनी प्रक्रिया में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। वसीयत, जिसे अंतिम वसीयत और वसीयतनामा के रूप में भी जाना जाता है, एक कानूनी दस्तावेज है जो किसी व्यक्ति की मृत्यु के बाद उसकी संपत्ति और संपत्ति के वितरण के संबंध में उसकी इच्छाओं…

Read More
अगर पत्नी पति के खिलाफ झूठा मामला दायर कर दे तो क्या होगा

अगर पत्नी पति के खिलाफ झूठा मामला दायर कर दे तो क्या होगा ?

यदि पत्नी पति के खिलाफ झूठा मामला दायर करती है, तो पति को निम्नलिखित कदम उठाने चाहिए: यदि पति मामले में सफल होता है, तो पत्नी को झूठी शिकायत दर्ज करने के लिए दंडित किया जा सकता है। दंड में जुर्माना,  जेल की सजा या दोनों शामिल हो सकते हैं। यहां कुछ अतिरिक्त सुझाव दिए गए हैं…

Read More
Translate »