क्यों बादाम और अक्रोट हम को भीगो कर खाना चाहिए ?

Why should we eat soaked almonds and walnuts

भिगोकर खाने से बादाम और अखरोट के कई स्वास्थ्यवर्धन लाभ हो सकते हैं, जिनमें उनमें पाए जाने वाले पोषक तत्वों की मात्रा की वृद्धि, शिग्र पाचन क्षमता, और एंटीऑक्सीडेंट से जुड़े कई लाभ शामिल हैं। 

पोषक तत्वों की मात्रा बढ़ती है: बादाम और अखरोट के भूरे छिलके में टैनिन नामक एक तत्व होता है, जो पोषक तत्वों के अवशोषण को रोक सकता है। इन्हें पानी में भिगोने से छिलके नरम हो जाते हैं, जिससे पोषक तत्वों की मात्रा बढ़ जाती है।

पाचन में आसानी: बादाम और अखरोट में फाइबर की अधिक मात्रा होती है, जिससे पाचन में मदद होती है। छिलके को पानी में भिगोने से इनमें फाइबर नरम हो जाती है और पाचन में आसानी हो जाती है।

एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा बढ़ती है: बादाम और अखरोट में एंटीऑक्सीडेंट की अधिक मात्रा होती है, जो शरीर को मुक्त कणों से बचाने में मदद कर सकते हैं। इन्हें पानी में भिगोने से इसकी मात्रा और बढ़ जाती है।

भिगोने का तरीका:

  • बादाम और अखरोट को रात भर पानी में भिगो दें।
  • सुबह इन्हें पानी से निकाल लें और अच्छे से धो लें।
  • इन्हें छिलके सहित या बिना छिलके के खा सकते हैं।
  • भिगोकर खाने से अधिकतम लाभ प्राप्त करने के लिए, इन्हें सुबह खाली पेट खाना चाहिए।

Other Reply

बादाम और अक्रोट को भीगो कर खाने से कई फायदे होते हैं। इनमें से कुछ प्रमुख फायदे निम्नलिखित हैं:

  • पोषक तत्वों की मात्रा बढ़ जाती है: बादाम और अक्रोट के भूरे रंग के छिलके में टैनिन नामक एक तत्व होता है जो पोषक तत्वों के अवशोषण को रोकता है। बादाम और अक्रोट को पानी में भिगोने से छिलके नरम हो जाते हैं और टैनिन निकल जाता है। इससे बादाम और अक्रोट में मौजूद पोषक तत्वों की मात्रा बढ़ जाती है।
  • पचने में आसान होते हैं: बादाम और अक्रोट में फाइबर की मात्रा अधिक होती है। फाइबर पाचन में मदद करता है, लेकिन अधिक फाइबर वाले खाद्य पदार्थों को पचने में थोड़ा समय लगता है। बादाम और
    अक्रोट को पानी में भिगोने से फाइबर नरम हो जाते हैं और पाचन में आसान होते हैं।
  • एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा बढ़ जाती है: बादाम और अक्रोट में एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा अधिक होती है। एंटीऑक्सीडेंट शरीर को मुक्त कणों से बचाने में मदद करते हैं। बादाम और अक्रोट को पानी में भिगोने से एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा बढ़ जाती है।

बादाम और अक्रोट को भीगोने का तरीका निम्नलिखित है:

  • बादाम और अक्रोट को रात भर पानी में भिगो दें।
  • सुबह बादाम और अक्रोट को पानी से निकाल लें और धो लें।
  • बादाम और अक्रोट को छिलके सहित या बिना छिलके के खा सकते हैं।
  • बादाम और अक्रोट को भीगो कर खाने से अधिकतम लाभ प्राप्त करने के लिए, इन्हें सुबह खाली पेट खाना चाहिए।

हार्ट ब्लॉकेज को दूर करने के सर्वोत्तम उपाय क्या हैं ?

मधुमेह रोगी का धैर्य टीबी से क्यों प्रभावित होता है ?

क्या तनाव से डायबिटीज और रक्तचाप पर होता है असर ?

क्या टैटू बनवाने से हमें त्वचा का कैंसर हो सकता है ?

क्या RO का पानी हड्डियों के विघटन के लिए जिम्मेदार है ?

ज्यादातर लोग रात में overthinking क्योँ करते हैं ?

One thought on “क्यों बादाम और अक्रोट हम को भीगो कर खाना चाहिए ?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »